Monday, 11 May 2009

पैसे लेकर ख़बर छापने का पैकेज



पैसे लेकर ख़बर छापने का पैकेज इस चुनाव में पत्रकारिता का पैसे कमाने का नया हथकंडा बना । कैसे और क्या हुआ इसे आप भी जानना चाहते होंगे । जनसत्ता हिन्दी दैनिक में वरिष्ठ पत्रकार व चिन्तक प्रभाष जोशी ने दो कड़ियों में लेख लिखकर इस रहस्य से परदा उठाया है। आप भी जानिए क्या है चुनावी ख़बर छापने का पॅकेज। पढ़ने के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करिए।


यह जोशीजी की इसी कड़ी का अगला लेख है।


4 comments:

Anil Pusadkar said...

ये जो पब्लिक है,सब जानती है।

RAJNISH PARIHAR said...

चुनावों में तो ये धंधा जोर शोर से चलता है...तभी तो कुछ नेता रोज ही खीसें निपोरते नजर आ जाते है..

Jayant Chaudhary said...

Yehi sach hai...
Baaki sab jhooth :))

Suman said...

good

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...