Tuesday, 18 June 2013

हडबड़ी में लिए टिकट तो फंसोगे जनाब, आसान नहीं होगा टिकट कैंसल कराना

    अगर आपको बिना योजना के यूं ही टिकट कटा लेने की आदत पड़ी हुई है तो इस आदत को फौरन बदल लीजिए। रेलवे वह सारे इंतजाम कर चुका है जिसमें आपकी इस लापरवाही से पूरा पैसा डूबेगा।  रेलवे ने टिकट कैंसल कराने के नियम को बदल दिया है। अगर पैसे बचाने होंगे तो जितनी हड़बड़ी में टिकट कटाया उससे ज्यादा हड़बड़ी टिकट को रद्द कराने में करनी होगी।
  अब आपको रेल का टिकट कैं‍सल कराना महंगा पड़ेगा। रेलवे ने टिकट रद्द करने के नियम में दूसरी बार बदलाव किया है। इस बार नियम यात्रियों के लिए सुविधाजनक नहीं है, क्योंकि इस नियम के अनुसार ऑनलाइन या विंडो, कोई सा भी टिकट ट्रेन छूटने के दो घंटे बाद तक ही रद्द करवाया जा सकेगा। रेलवे बोर्ड ने इस नियम का आदेश 14 जून को जारी कर दिया है। अगर आपका टिकट वेटिंग या आरसी में था तो ट्रेन छूटने के तीन घंटे बाद आपको खिड़की पर जाकर टिकट को कैंसिल करवाना पड़ेगा। अगर समय-सीमा होने पर किसी भी हाल में आपका टिकट रद्द नहीं होगा।

   आईआरसीटीसी से बुक आरएसी टिकट का पैसा आपको तीन घंटे के अंदर ऑनलाइन टीडीआर फाइल करने पर ही वापस मिलेगा। अब तक आईआसीटीसी वेबसाइट से बुक किया हुआ टिकट ट्रेन छूटने के एक महीने के बाद तक टीडीआर फाइल करने पर आपको पैसा रिफंड मिल जाता है। इसका अर्थ यह हुआ कि नए नियम में यह समय-सीमा एक महीने से घटाकर दो घंटे कर दी गई है।

   रेलवे टिकट कैंसिल कराने पर लगने वाले क्लर्क चार्ज को भी 1 अप्रैल से बढ़ा चुका है। अब फर्स्ट एसी में टिकट कैंसिल कराने पर 120, सेकंड थर्ड एसी में 100-90 और स्लीपर में 60 रुपए प्रति यात्री कैंसलिंग चार्ज देना पड़ता है। ई टिकट में भी यही नियम लागू होगा।
   रेलवे ने एसएमएस से टिकट बुक कराने की सुविधा देने की की घोषणा की है। जुलाई से आप एसएमएस भेजकर टिकट बुक कर सकेंगे। आईआरसीटीसी 1 जुलाई से एसएमएस आधारित रेल टिकट बुकिंग शुरू करेगी। इसके नंबर की घोषणा भी जल्द की जाएगी।(एजेंसियां)
  http://hindi.webdunia.com/news-national/%E0%A4%B0%E0%A5%87%E0%A4%B2%E0%A4%B5%E0%A5%87-%E0%A4%A8%E0%A5%87-%E0%A4%AC%E0%A4%A6%E0%A4%B2%E0%A5%87-%E0%A4%9F%E0%A4%BF%E0%A4%95%E0%A4%9F-%E0%A4%95%E0%A5%88%E0%A4%82%E0%A4%B8%E0%A4%B2%E0%A4%BF%E0%A4%82%E0%A4%97-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%AE-1130618030_1.htm

5 comments:

Shalini Kaushik said...

NICE INFORMATION .THANKS

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) said...

प्रभावी !!!
शुभकामना
आर्यावर्त

Ashok Singh said...

Very informative, Thanks

Ashok Singh said...

Thanks, Very informative

Ashok Singh said...

Very informative, Thanks

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...