Wednesday, 6 June 2007

अक्षरग्राम


मैं हिंदी पत्रकार हूँ । खबरों की दुनिया में तो रहता ही हूँ इसी लिए अब अपने विचारों को लेकर अक्षरग्राम के चिट्ठाकारों से भी जुडना चाहता हूँ। खबर उनकी भी लेनी है जिन्होंने अपने विचारों से अक्षरग्राम में धूम मचा रखी है। मैं काशी का रहने वाला हूँ। और अब कोलकाता में पत्रकारिता कर रहा हूँ। हिंदी पत्रकार हूँ इस लिए हिंदी जगत से जुडना मेरी हाबी है। आपलोगों का सानिध्य पाकर मुझे बड़ी ख़ुशी होगी।
धन्यवाद
डा.मान्धाता सिंह
कोलकाता

6 comments:

Mired Mirage said...

आपका स्वागत है, किन्तु कृपया हमारी खबर मत लीजियेगा, हमने कुछ नहीं किया है ।
घुघूती बासूती

काकेश said...

स्वागत है आपका... कोलकता से अपना पुराना रिश्ता रहा है.. आशा है आपसे अच्छा कुछ सुनने को मिलेगा.

Shrish said...

हिन्दी चिट्ठाजगत में आपका स्वागत है मान्धाता जी। उम्मीद है अच्छी खबर लेंगे।

नए चिट्ठाकारों के स्वागत पृष्ठ पर भी जाएं।
http://akshargram.com/sarvagya/index.php/welcome

मोहिन्दर कुमार said...

स्वागत है चिट्ठा जगत में आपका...
अब तो अक्सर मिलते रहेंगे

डा.मान्धाता सिंह said...

धन्यवाद मित्रों । नया ब्लॉगर हूँ। पंजीकृत होते ही आप लोगों ने स्वागत की जो तत्परता दिखायी उससे मैं और भी उत्साहित हूँ। मिलते रहेंगे।

मान्धाता

विष्णु बैरागी said...

मान्‍धाताजी,

ब्‍लाग विश्‍व की अत्‍यल्‍प जानकारी रखने वाले मुझ नौसिखिये ब्‍लागीये की ओर से आपका हार्दिक स्‍वागत ।

हिन्‍दी के लिये कोलकाता 'मौसी का घर' है और आप तो जानते ही हैं कि 'मां से ज्‍यादा मौसी प्‍यारी', सो आपसे कुछ ज्‍यादा ही उम्‍मीदें रहेंगी ।

हिन्‍दी की अधिकांश प्रतिष्‍ठत पत्रिकाएं कोलकाता से ही प्रकाशित होती हैं । हम आपको अधिकाधिक पत्रिकाओं में देखना/पढना चाहेंगे ।

शुभ-कामनाएं ।

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...